UP Gram Panchayat Election Date 2020 (Chunav) Date | Reservation List

UP Gram Panchayat Chunav Date 2020 Latest News|UP Gram Panchayat Election Date 2020|Check Voter List and download UP Gram Panchyat Chunav 2020 | Reservation List of UP Panchayat Election 2020|

उत्तर प्रदेश राज्य में ग्राम पंचायतों का कार्यकाल लगभग पूरा हो रहा है। इसी वजह से आगामी UP Gram Panchayat Election चुनावों के लिए अभी से उत्तर प्रदेश के हर एक वर्ग में उत्साह देखा जा सकता है ।आज हम आपको उत्तर प्रदेश के ग्राम पंचायत चुनाव के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। जैसा कि आपको ज्ञात होगा कि उत्तर प्रदेश में हाल ही में पंचायत के उप चुनाव हुए थे तथा अब राज्य के निर्वाचन आयोग के द्वारा पूर्ण पंचायत चुनाव का कार्यक्रम घोषित किया जाना है।

कार्यक्रम के अनुसार उत्तर प्रदेश में चुनाव का प्रस्ताव भी निर्वाचन आयोग के द्वारा राज्य सरकार को भेज दिया गया है। हम आपको यह जानकारी उपलब्ध करवाएंगे कि चुनाव कब तक हो सकते हैं तथा इसकी तिथियों का निर्धारण कब तक किया जा सकता है।उत्तर प्रदेश में होने वाले चुनाव में इस बार क्या बदलाव किए गए हैं। इसलिए अब बने रहिए हमारे साथ तथा लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें तकि आपको पूर्ण जानकारी मिल सके।

UP Gram Panchayat Election Date 2020 (Chunav) Date

निर्वाचन आयोग के द्वारा जो प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा गया है उसके अनुसार आने वाले वर्ष 2020 के मध्य या अंत तक उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव हो सकते हैं। इसके संबंधित कोई भी विस्तृत कार्यक्रम कि अधिकारिक जानकारी जल्द ही आ जाएगी। अन्य चुनावों को जैसे कि निकाय के चुनाव भी होने हैं, को ध्यान में रखते हुए अभी तक पंचायत चुनावों के लिए कोई भी तारीख घोषित नहीं की गई है। क्योंकि निकाय के चुनाव वर्ष 2019 के अंत तक हो सकते हैं इसलिए उनके बाद भी कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है ।

UP Gram Panchayat Election 2020

एक अनुमान के मुताबिक उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव तथा विधानसभा के चुनाव एक ही समय पर आ सकते हैं इसकी वजह से चुनाव आयोग को बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। वैसे तो चुनाव आयोग पूरे भारत में सभी तरह के चुनावों का सफलतापूर्वक आयोजन करता है। लेकिन जहां तक पंचायत चुनावों की बात है तो यूपी के ग्राम पंचायत चुनाव जनसंख्या की दृष्टि से भारत के सबसे बड़े पंचायत चुनावों मैं से एक है। इसमें चुनाव आयोग को दिन-रात कड़ी मेहनत तथा चुनाव आयोग के अधिकारियों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। विधानसभा के चुनावों को मध्य नजर रखते हुए आम जन सुरक्षा के भी खास इंतजाम करने पड़ते हैं। आवश्यकता पड़ने पर बाहरी राज्यों से सुरक्षाबल बुलाने पड़ते हैं।

Panchayat Elections Postponed Due to COVID-19 Pendemic

पहले जहाँ चुनाव दिसम्बर में होने वाले थे अब बह हो सकता है कि अगले बर्ष अर्थात 2021 के अप्रैल या मई तक हों. वेसे भी चुनाव आयोग के द्वारा सारी गाइडलाइन्स को ज़ारी किया जा चूका है और बह सारी सर्किल में हैं. अब जहाँ तक रही चुनाव की बात तो आयोग चुनाव के साथ साथ लोगों की सेहत का भी ख्याल रख रहा है. इसलिए जारी किये गए दिशानिर्देश की पलना करना हमारा कर्त्तव्य है.

नए प्रत्याशियों को सुनेहरा मौका

इस बार के चुनावों में नए प्रत्याशियों पंचायत चुनाव लड़ने का मौका मिल सकता है. एसा इसलिए क्योंकि लगभग अस्सी प्रतिशत चयनित प्रधान, बार्ड मेम्बर, उपप्रधान दोबारा चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित हो चुके हैं.

इनके अयोग्य होने के पीछे अपने पहले चुनाव के खर्चे को सूचीबद्द करके चुनाब आयोग को न दिखाना है. न सिर्फ अभी के चयनित उमीदवार बल्कि जिन प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा था और हार भी गए थे वह भी. पुराने एसे उम्मीदवार जिनके घोषणा पत्र (नामांकन) में अनियमितता पाई गयी थी बह सभी अयोग्य घोषित हो चुके हैं.

इस प्रकार नए उम्मीदवारों को इस चुनाव को लड़ने का सुनेहरा मौका है. अगर आप भी चुनाव में उम्मीदवार बनना चाहते हैं तो शुरू होने पर नामांकन भर सकते हैं.

Uttar Pradesh Election 2020 में नोटा (NOTA) का प्रयोग

इस बार के पंचायत चुनावों में NOTA का भी उपयोग किया जाएगा। राज्य सरकार को भेजे गए प्रस्ताव में नोटा की भी चर्चा की गई है। अगर राज्य सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त होती है तो आने वाले चुनावों में अभी पंचायत पदों के ऊपर नोटा का इस्तेमाल किया जा सकेगा। पंचायत चुनावों में होने वाले मेंबरों के जो पद है जिनके ऊपर नोटा का इस्तेमाल किया जा सकता है वह है ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत के सदस्य, परिषद तथा क्षेत्र पंचायत के अधीन आने वाले अन्य पद। नोटा एक ऐसी व्यवस्था है जोकि मतदाता को एकाधिकार देती है जिसके द्वारा वह उम्मीदवारों को खारिज कर सकते हैं। नोट के द्वारा हार जीत का फैसला होने में हमेशा से ही बड़ी भूमिका रही है।

2020 में होने वाले पंचायत चुनाव में अलग मतदाता सूची का प्रयोग नहीं होगा। वही मतदाता सूची प्रयोग में लाई जाएगी जोकि विधानसभा चुनावों के समय प्रयोग होती है। इस तरह से किसी भी तरह की त्रुटि होने से बचा जा सकता है। पंचायती राज विभाग सभी पंचायतों से उनका रिकार्ड इकट्ठा करने की प्रक्रिया को शुरू कर चुका है।

ग्राम पंचायत चुनाव उत्तर प्रदेश 2020 में शामिल पद

  •  इस बार के ग्राम पंचायत चुनावों में सभी पदों के ऊपर चुनाव होंगे।
  • सबसे महत्वपूर्ण पद ग्राम प्रधान का है जिसके ऊपर चुनाव होगा।
  • इसके बाद ग्राम पंचायत के सदस्य भी चुनाव प्रक्रिया के द्वारा चुने जाएंगे।
  • अन्य पदों में क्षेत्र पंचायत के सदस्य भी चुनाव के द्वारा तथा जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव भी होगा
  • इन सभी महत्वपूर्ण पदों के साथ दूसरे महत्वपूर्ण पद भी है जोकि इलेक्शन के द्वारा चुने जाएंगे वह है उपप्रधान का पद।

इस बार के पंचायत चुनाव लगभग पूरे 5 वर्षों बाद हो रहे हैं। अच्छे कार्य करने वाले उम्मीदवार अगर इस बार दोबारा इलेक्शन में उतरेंगे तो हो सकता है कि उन्हें अगले 5 वर्ष तक का कार्यकाल फिर से मिल जाए। इसके लिए जैसे ही आवेदन शुरू होंगे वह नजदीकी इलेक्शन ऑफिस में जाकर जोकि मुख्यतः ब्लॉक ऑफिस होता है जाकर अपना नामांकन दाखिल कर सकते हैं।

 पंचायत चुनाव उत्तर प्रदेश और अधिकारी तबादला नीति

  • निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए हुए प्रस्ताव अनुसार आगामी पंचायत चुनावों को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है ।कि सरकारी अधिकारी जो कि पंचायत चुनावों से जुड़े होंगे उनके लिए नई तबादला नीति के अनुसार पोस्टिंग की जाए।
  • इसके अनुसार जो भी संबंधित अधिकारी 3 साल से ज्यादा अपने निर्वाचन क्षेत्र अथवा गृह क्षेत्र मैं कार्यरत हैं उनका दवा दूंगा चुनावों से पहले अपने गृह क्षेत्र से कर दिया जाएगा।

जैसा कि आपको लेख में बताया है की विधानसभा चुनाव की वोटर लिस्ट ही ग्राम पंचायत के चुनावों में प्रयोग होगी तथा इसकी जानकारी प्रत्येक चुनाव से पहले चुनाव आयोग के द्वारा आयोग के आधिकारिक पोर्टल के ऊपर दे दी जाएगी। आधिकारिक वेबसाइट तथा वोटर लिस्ट को डायरेक्ट डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें

UP Panchayat Election Reservation List/यूपी पंचायत चुनाव आरक्षण

  • पंचायत चुनाव में कौन सी सीट के ऊपर आरक्षण होगा यह जानकारी तथा अधिकार पूर्ण रूप से चुनाव आयोग के पास होता है।
  • अधिकतर पंचायत चुनावों में हम यह देखते आए हैं कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग तथा महिलाओं के लिए आरक्षण की सुविधा होती है।
  • इसलिए कयास यह लगाए जा रहे हैं कि इस बार भी पहले की तरह रिजर्वेशन का प्रावधान हो।

इस तरह से UP Gram Panchayat Election 2020 के चुनावों कि तीन चरणों में चुनाव होने की जानकारी का अनुमान है। जैसे कि फाइनल तारीख की चुनाव आयोग के द्वारा प्रकाशित की जाएगी तथा हमारे पास आएगी हम आपको शीघ्र अति शीघ्र उपलव्ध करवा देंगे, आपके साथ शेयर की जाएगी। तब तक बने रहे हमारे साथ और इसके संबंधित अपडेट हमारी वेबसाइट से लेते रहे।

Questions Asked Frequently (F&Q)

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीख क्या रहेगी?

चुनाव आयोग की तरफ से अभी तक आधिकारिक नोटिफिकेशन नहीं आई है लेकिन हो सकता है कि अप्रैल और मई के मध्य चुनाव हो सकते हैं।

क्या उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव में प्रधान के पद का आरक्षण होगा?

आरक्षण कौन से पद का होगा तथा किस पंचायत में पद आरक्षित होगा, इसकी जानकारी चुनाव आयोग की अंतिम नोटिफिकेशन मिलने तथा नामांकन भरने से पहले आवेदन कर्ता को मिल जाएगी।

यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2020 की वोटर लिस्ट कैसे चेक करनी है?

वोटर लिस्ट को चेक करने के लिए विभाग की वेबसाइट nvsp.in पर जाएँ। अब Search in Electoral Roll के उपर क्लिक करें। अब नया पेज आएगा उसके उपर आप दो आप्शन देखेंगे।पहला विवरण के द्वारा खोज और दूसरा पहचान पत्र क्र. के द्वारा खोज। आप अपनी सुविधा के अनुसार यहाँ अपना नाम चेक कर सकते हैं और मतदाता सूची डाउनलोड भी कर सकते हैं।

दोस्तों चुनाव का हर व्यक्ति को बड़ी वेसब्री से इंतजार रहता है।हमारी भी यही कोशिश रहती है कि प्रत्येक जानकारी जो आपसे संवंधित हो हम जल्द से जल्द आप तक पहुंचाए अगर आपकोUtter Pradesh Gram Panchayat Election 2020 की जानकारी उपयोगी लगी तो अपने दोस्तों के साथ साझा करें। अगर कोई प्रश्न है तो कमेंट बॉक्स में लिखें आपको शीघ्र ही उत्तर दिया जाएगा तब तक ज्यादा जानकारीके लिए बने रहे हमारे साथ धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!